भाकपा नेताओं ने उद्धव ठाकरे से की मुलाकात, विधानसभा उपचुनाव में समर्थन का दिया भरोसा


मुंबई:

अपने पिता बाल ठाकरे द्वारा स्थापित पार्टी पर अधिकार पाने के लिए संघर्ष कर रहे शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे को बुधवार को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) और महात्मा गांधी के प्रपौत्र तुषार गांधी का समर्थन मिला. मुंबई में भाकपा नेता प्रकाश रेड्डी, मिलिंद रानाडे और अन्य ने ब्रांदा स्थित ठाकरे के निजी आवास ‘मातोश्री’ जाकर उनसे मुलाकात की और तीन नवंबर को अंधेरी पूर्वी विधानसभा सीट पर होने वाले उप चुनाव में समर्थन देने का वादा किया. कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) पहले ही ठाकरे गुट का समर्थन करने की घोषणा कर चुके हैं.

यह भी पढ़ें

ठाकरे, कांग्रेस और राकांपा के सहयोग से महा विकास आघाडी की सरकार का नेतृत्व कर रहे थे जिसका जून में मौजूदा मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में शिवसेना विधायकों की बगावत के बाद पतन हो गया था. भाकपा द्वारा समर्थन देना महत्वपूर्ण है क्योंकि वह वर्षों से शिवसेना की विरोधी रही है. ‘नफरत छोड़ो संविधान बचाओ अभियान’ के नेता तुषार गांधी और फिरोज मिथबोरवाला ने भी ठाकरे से मुलाकात की. तुषार गांधी ने यहां जारी बयान में कहा, ‘‘हमें अपने देश और संविधान को बचाना है. हमें नफरत को खत्म करना है. हमने ठाकरे से अभियान से जुड़ने का अनुरोध किया. हमने ठाकरे और शिवसेना के प्रति एकजुटता भी प्रकट की.”

ये भी पढ़ें- 

रवीश कुमार का प्राइम टाइम : नोटबंदी के नाकाम फैसले का क्या था आधार?

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *