मध्य प्रदेश पहुंची भारत जोड़ो यात्रा, राहुल गांधी बोले- लोगों के मन से डर मिटाना हमारा लक्ष्य


राहुल गांधी ने बुरहानपुर में जनसभा को संबोधित किया.

भोपाल:

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Congress Leader Rahul Gandhi) की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) ने बुरहानपुर के रास्ते बुधवार सुबह मध्य प्रदेश पहुंच गई. इस दौरान राहुल गांधी ने बुरहानपुर में जनसभा को संबोधित किया. राहुल ने कहा कि यात्रा के पीछे दो-तीन लक्ष्य है. यह यात्रा उस नफरत, हिंसा और डर के खिलाफ है, जिसे हिंदुस्तान में फैलाया जा रहा है. डर मिटाना हमारा लक्ष्य है. इस हिंदुस्तान में किसी से डरने की जरूरत नहीं है.

यह भी पढ़ें

राहुल गांधी ने कहा, ‘बीजेपी का तरीका यही है. सबसे पहले, डर फैलाना. युवाओं, किसानों और आम लोगों में डर फैलाना. जब डर फैल जाता है तो उसे हिंसा में बदल देते हैं. हिंसा डर का ही रूप है. जो डरता नहीं है, वह हिंसा भी नहीं कर सकता. जो डरता है, वह ही हिंसा करता है. इस डर से मुक्ति हमारा लक्ष्य है.’

उन्होंने कहा, ‘इस प्यार भरे स्वागत के लिए आप सबको बहुत-बहुत धन्यवाद. महाराष्ट्र से हमारे साथ आए लोग लौट जाएंगे. महाराष्ट्र में इन्होंने यात्रा बहुत अच्छे से आयोजित की. बहुत अच्छा मैसेज महाराष्ट्र और भारत में गया. यह यात्रा कन्याकुमारी में शुरू की थी. विपक्ष के लोगों ने कहा था कि हिंदुस्तान तीन हजार 600 किमी लंबा है. यह पैदल नहीं तय किया जा सकता. अब देखिए हम मध्य प्रदेश आ गए हैं. 370 किमी यहां चलेंगे. यह तिरंगा श्रीनगर तक जाएगा और हम डरने वाले नहीं हैं.’

युवाओं के सपने पूरे नहीं हो सकते

राहुल ने एक पांच साल के बच्चे रुद्रा को मंच पर बुलाया. उन्होंने कहा कि रुद्रा पांच साल का है. यह डॉक्टर बनना चाहता है. इसने अपना सपना बना लिया है. यह उसके लिए काम करेगा. आज के हिंदुस्तान में रुद्रा का सपना पूरा नहीं हो सकता. मैं ऐसे नहीं बोल रहा. 70 दिन से चल रहा हूं. हर प्रदेश में रुद्रा जैसे युवाओं से मिला. कोई इंजीनियर बनना चाहता है, कोई डॉक्टर तो कोई लॉयर. सारे के सारे स्कूल प्राइवेटाइज हो गए. लाखों रुपये जेब से निकालने होंगे. 

राहुल गांधी ने आगे कहा, ‘उसके बाद रुद्रा को पता चलेगा कि माता-पिता के खून-पसीने ने उसे शिक्षा दिलाई. वह डॉक्टरी नहीं कर सकेगा और मजदूरी करने लगेगा. बेरोजगारों का हिंदुस्तान हम नहीं चाहते. तीन-चार उद्योगपतियों के हाथ में सारी की सारी इंडस्ट्री है. एयरपोर्ट, टेलीफोन और रेलवे तक उनके हाथ में जा रही है. हमें न्याय चाहिए. गरीबों को न्याय मिलना चाहिए. तीसरी बात महंगाई की है.’

महाराष्ट्र में जलगांव जामोद से उनका काफिला सुबह छह बजे रवाना हुआ. जलगांव जामोद के जसौंधी गांव से होते हुए यात्रा मध्य प्रदेश के बुरहानपुर जिले के बोदरली गांव में पहुंची. यहां राहुल गांधी के स्वागत के खास इंतजाम किए गए थे. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह समेत तमाम बड़े नेता राहुल के स्वागत के लिए बुरहानपुर में मौजूद रहे.

ये भी पढ़ें:-

“राहुल गांधी की यात्रा का विरोध क्यों करें?”: राजस्थान के गुर्जर नेता की धमकी पर ‘टीम पायलट’ ने कहा

” सद्दाम हुसैन की तरह दिखने लगे हैं राहुल गांधी,” हिमंत बिस्वा सरमा ने कसा तंज, कांग्रेस ने ऐसे बंद की बोलती

       


 

Featured Video Of The Day

सच की पड़ताल : क्या मुख्यमंत्री को बोलनी चाहिए ऐसी भाषा?



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *