‘मेरा डोसा किसने खाया?”: BJP नेता तेजस्वी सूर्या और कांग्रेस नेताओं ने एक-दूसरे पर छोड़े तीर


BJP नेता तेजस्वी सूर्या और कांग्रेस नेताओं के बीच जुबानी जंग जारी

बेंगलुरु:

कर्नाटक में एक ‘साधारण नाश्ता डोसा’ को लेकर भाजपा और कांग्रेस के नेता एक-दूसरे पर वार-पलटवार कर रहे हैं. इनका यह जुबानी जंग ट्विटर पर भी खूब देखने को मिल रहा है. शनिवार को कांग्रेस ने बीजेपी नेता तेजस्वी सूर्या को डिलीवरी ऐप Dunzo के जरिए मसाला डोसा के 10 पार्सल भेजे. हालांकि, सूर्या ने दावा किया कि उन्हें ये पार्सल कभी नहीं मिला. वहीं, कांग्रेस ने उन पर तंज कसते हुए कहा कि यह राज्य में भ्रष्टाचार का संकेत है, सूर्या के कार्यालय में किसी ने तो ये डोसा खाया होगा.

यह भी पढ़ें

वहीं सूर्या ने ट्वीट किया कि कांग्रेस ने कल एक घोषणा की कि उन्होंने मेरे घर मसाला डोसा का पार्सल भेजा है. 24 घंटे से अधिक हो गए हैं और मुझे अभी भी यह नहीं मिला है. उन्होंने यहां भी स्कैम किया है. वे एक डोसा ठीक से भेज नहीं  सकते और वे एक अच्छी सरकार देने का दावा करते हैं. 

सूर्या के ट्वीट का जवाब देते हुए तेजेश कुमार ने ट्वीट किया कि ‘प्रिय तेजस्वी, वास्तव में डोसा आपके कार्यालय के पते पर भेजे गए थे और उसी की पावती आपके संदर्भ के लिए संलग्न है. सरकार में 40% भ्रष्टाचार के बारे में पता था, लेकिन अब हमें पता चला आपके कार्यालय में 100 % भ्रष्टाचार है,  क्योंकि आपके कार्यालय में किसी ने आपका डोसा खा लिया है’

इंडियन एक्सप्रेस ने सूत्रों के हवाले से बताया कि स्थानीय पुलिस ने कहा कि सूर्या के घर के पास एक डिलीवरी व्यक्ति आया था, लेकिन पुलिस ने उसे मना कर दिया.  इस मुद्दे पर टिप्पणी करने के लिए पूछे जाने पर सूर्या ने मीडिया से कहा कि यह उनके खिलाफ एक साजिश थी. 

बताते चलें कि बेंगलुरू में बाढ़ की विभीषिका के बीच लोकसभा सदस्य तेजस्वी सूर्या का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया. इस वीडियो में वह अपने निर्वाचन क्षेत्र में एक जलपान गृह का प्रचार करते हुए डोसा खाते और उसके स्वाद की तारीफ में कसीदे काढ़ते नजर आ रहे हैं. 

दरअसल 40 सेंकेड का एक वीडियो सार्वजनिक हुआ है, जिसमें भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सूर्या पद्मनाभ नगर में एक होटल में बैठ कर ‘बटर मसाला डोसा’ और उत्पम खाते और व्यंजन के स्वाद तथा गुणवत्ता की तारीफ करते दिखाई दे रहे है. वीडियो में सांसद ने लोगों से वहां आने और स्वादिष्ट खाने का लुत्फ उठाने का भी आग्रह किया. 

यह सब पिछले हफ्ते के अंत में शुरू हुआ जब एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें श्री सूर्या को पद्मनाभनगर के एक भोजनालय में मसाला डोसा खाते हुए दिखाया गया और लोगों को उस जगह पर जाने के लिए कहा गया। कांग्रेस नेताओं ने जल्द ही ट्विटर पर श्री सूर्य पर हमला करते हुए कहा कि भाजपा नेता एक अच्छा समय बिता रहे थे, जबकि बेंगलुरु के निवासी शहर में गंभीर जलभराव से जूझ रहे थे. 





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.