‘मेरी मां को न्याय दिलाने के लिए मेरा समर्थन करें’, खाप महापंचायत में सोनाली फोगाट की बेटी ने कहा


सर्व जातीय खाप महापंचायत ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत सरकार को पार्टी की नेता सोनाली फोगाट की मौत के मामले में 23 सितंबर तक केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की जांच की सिफारिश करने का ‘अल्टीमेटम’ दिया. हिसार के जाट धर्मशाला में महापंचायत का आयोजन किया गया. सोनाली फोगाट की बेटी यशोधरा और परिवार के अन्य सदस्यों ने भी बैठक में भाग लिया. फोगाट (43) की अगस्त के अंत में गोवा पहुंचने के कुछ घंटों बाद मृत्यु हो गई थी. संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत की जांच की जा रही है.

यह भी पढ़ें

महापंचायत में निर्णय हुआ कि अगर सरकार मामले की सीबीआई से जांच कराने में विफल रहती है, तो 24 सितंबर को ऐसी ही एक और बैठक आयोजित की जाएगी. पूरे हरियाणा और अन्य राज्यों के खाप प्रतिनिधि 24 सितंबर को बैठक में भाग लेंगे और ‘कड़ा निर्णय’ लेंगे. महापंचायत में 15 सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया. इसमें सोनाली के परिवार के पांच सदस्य भी शामिल हैं. यशोधरा ने कहा, ‘‘मेरी मां को न्याय दिलाने के लिए मेरा समर्थन करें” बैठक में यशोधरा ने सीबीआई जांच की मांग की.

फोगाट की मौत के मामले में गोवा पुलिस जांच कर रही है. उन्होंने हिसार, रोहतक और गुरुग्राम सहित हरियाणा में भी छानबीन की थी. फोगाट के परिवार के सदस्य मामले में सीबीआई जांच की मांग पर अड़े हुए हैं और कह रहे हैं कि वे गोवा पुलिस की जांच से असंतुष्ट हैं. फोगाट के परिवार के कुछ सदस्यों ने पूर्व में कहा था कि अगर गोवा सरकार प्रमुख जांच एजेंसी से जांच की सिफारिश नहीं करती है, तो वे मामले में सीबीआई जांच का अनुरोध करते हुए एक अदालत के समक्ष याचिका दायर करेंगे. फोगाट और उनके साथियों ने 22 और 23 अगस्त की दरम्यानी रात को गोवा के कर्लीज रेस्टोरेंट में पार्टी की थी.

टिकटॉक से शोहरत हासिल करने वालीं फोगाट को गोवा पहुंचने के एक दिन बाद 23 अगस्त को उत्तरी गोवा जिले के एक अस्पताल में मृत अवस्था में लाया गया था. गोवा पुलिस ने हत्या के संबंध में अब तक आरोपी सुधीर सांगवान, एक अन्य सहयोगी सुखविंदर सिंह और तीन अन्य को गिरफ्तार किया है. इससे पहले, सोनाली के भाई रिंकू ढाका ने कहा कि अगर सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश करने का फैसला किया होता, तो खाप महापंचायत आयोजित करने की कोई जरूरत नहीं होती. रिंकू ढाका ने फिर दोहराया कि उनका परिवार गोवा पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं है.

करीब दो हफ्ते पहले हरियाणा सरकार ने गोवा सरकार को पत्र लिखकर भाजपा नेता फोगाट की मौत की सीबीआई जांच की सिफारिश करने का अनुरोध किया था. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा इस संबंध में फोगाट के परिवार के सदस्यों को आश्वासन दिए जाने के बाद हरियाणा सरकार ने यह कदम उठाया.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.