Hindi Diwas 2022: देने जा रहे हैं हिंदी दिवस पर भाषण तो ध्यान रखें ये जरूरी बातें, लोग ताली बजाने पर हो जाएंगे मजबूर 


Hindi Diwas Speech: इस तरह दें हिंदी दिवस पर भाषण. 

Hindi Diwas: हर साल 14 सिंतबर के दिन भारत में हिंदी दिवस मनाया जाता है. इस दिन विद्यालय या कॉलेज में हिंदी दिवस के समारोह का आयोजन होता है, गोष्ठियां होती हैं जिसमें विद्यार्थी और शिक्षक सभी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं. साथ ही, हिंदी दिवस का भाषण भी होता है. कई बार यह भाषण (Hindi Diwas Speech) हिंदी भाषा के महत्व पर होता है तो कभी किसी अन्य महत्वपूर्ण विषय पर अपनी बात रखी जाती है. अक्सर भाषण से पहले घबराहट भी होने लगती है और समझ आना बंद हो जाता है कि भाषण की शुरूआत कैसे करें और अंत में क्या बोलें. यहां ऐसे ही कुछ टिप्स दिए गए हैं जो आपको एक अच्छा भाषण देने में मदद करेंगे. 

यह भी पढ़ें

Diabetes के मरीजों के लिए कमाल के साबित होते हैं ये 5 ड्रिंक्स, ब्लड शुगर लेवल बढ़ाते नहीं बल्कि करते हैं कम 

हिंदी दिवस पर भाषण के टिप्स | Hindi Diwas Speech Tips 

अपने भाषण का मकसद सोचें 


हिंदी दिवस पर हिंदी के महत्व (Importance of Hindi) पर वही सालों से चली आ रही स्पीच सभी देते हैं. इस दिन को मनाने का कारण और आरंभ की तारीख भी अक्सर भाषण में सम्मिलित की जाती है. लेकिन, अपने भाषण को सचमुच सभी के दिल तक पहुंचाने के लिए किसी मकसद के बारे में सोचें. हिंदी का ही ऐसा कोई विषय लें जिससे लोग जुड़ाव महसूस कर सकें. हिंदी की क्षति और बदलते समय में देसी भाषाओं के विदेशी भाषाओं से पिछड़ जाने जैसी बातों को भी अपने भाषण का हिस्सा बनाएं. 

जीवंत उदाहरण चुनें 

भाषण देते हुए अक्सर लोग उन बातों का जिक्र करने लगते हैं जो सदियों पुरानी भूली-बिसरीं हो जो बड़े दर्शकों को तो समझ आ सकती हैं लेकिन अगर आपके समक्ष विद्यार्थी बैठें हों तो उनके लिए साफ शब्दों में ऐसे उदाहरण बताएं जो उन्हें आसानी से समझ आ सकें और जिनसे वे खुदको जोड़ सकें. 

लिखना है बेहतर 

भाषण आपको चाहे कितने ही अच्छे से याद हो जाए कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं का ध्यान रखना जरूरी है. इससे आप अगर हड़बड़ा भी जाएंगे तो आपको पता होगा कि अपनी पर्ची पर नजर मार सकते हैं, साथ ही आप किसी महत्वपूर्ण बिंदु को नहीं भूलेंगे. 

खुद लिखें अपना भाषण 


हिंदी दिवस पर भाषण के लिए आपको इंटरनेट पर एक से बढ़कर एक भाषण जरूर मिल जाएंगे लेकिन उनमें से किसी में भी वो बात नहीं होगी जो आपके खुदके लिखे हुए भाषण में नजर आएगी. निम्न कुछ बिंदुओं (Points) की मदद से अपना हिंदी दिवस का भाषण लिखें. 

– हिंदी दिवस के इतिहास (Hindi Diwas History) पर एक नजर 

– क्यों महत्वपूर्ण है हिंदी दिवस मनाना 

– आज के समय में हिंदी का स्तर 

– आज के समय में हिंदी दिवस मनाने की प्रासंगिकता

– आपके जीवन को हिंदी कैसे प्रभावित करती है 

– सोशल मीडिया और हिंदी 

– अंत में, हिंदी का महत्व हमारे लिए कल, आज और कल. 

शरीर पर जगह-जगह होने लगे खुजली की समस्या तो आजमाकर देंखें ये नुस्खे, मिलेगा छुटकारा 

जरीन खान मुंबई एयरपोर्ट पर आईं नज़र, नए स्टाइल में लगी बेहद खूबसूरत



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.