Surya Grahan 2022 Date: 25 अक्टूबर का सूर्यग्रहण इन राशियों पर पड़ेगा भारी, जानें क्या कर सकते हैं उपाय!


वृषभ को इस सूर्य ग्रहण के अशुभ प्रभाव से सेहत बिगड़ सकती है. ऐसे में इस दौरान खान-पान का विशेष ध्यान रखना होगा. पारिवारिक चिंता हो सकती है. पारिवार में आपसी मतभेद हो सकता है. बिजनेस में आंशिक नुकसान की संभावना है. 

मिथुन राशि(*25*)

सूर्यग्रहण के अशुभ प्रभाव से पारिवारिक बजट बिगड़ सकता है. अनावश्यक खर्च से चिंता बढ़ सकती है. कार्यों में देरी के कारण नुकसान हो सकता है. आमदनी की तुलना में खर्च अधिक होगा. कार्यों में सफलता प्राप्त करने के लिए दोगुणा मेहनत करना पड़ेगा.

Tulsi Puja: तुलसी पूजा के वक्त कर सकते हैं ये छोटा सा काम, मान्यतानुसार मां लक्ष्मी की बरसती है कृपा!

कन्या राशि(*25*)

कन्या राशि के लिए यह सूर्य ग्रहण शुभ नहीं है. इस दौरान आर्थिक स्थिति खराब हो सकती है. बिजनेस में आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. आर्थिक निवेश करने से पहले जानकारों की राय जरूर लें. नौकरी में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. 

वृश्चिक राशि(*25*)

सूर्य ग्रहण वृश्चिक राशि के लोगों की आर्थिक स्थिति प्रभावित कर सकता है. ऐसे में सूर्य ग्रहण के दौरान विशेष सावधान रहना पड़ेगा. इसके साथ ही आर्थिक नुकसान से साथ-साथ मानहानि का सामना करना पड़ सकता है. खर्च पर नियंत्रण रखना होगा. इस समय आर्थिक निवेश करने से बचें.

तुला राशि(*25*)

ज्योतिषीय गणना के मुताबिक सूर्य ग्रहण इसाी राशि में लगने जा रहा है. ऐसे में इस राशि से संबंधित जातकों के लिए सूर्य ग्रहण कष्टकारी साबित होगा. साथ ही इस दौरान वाहन चलाने में सतर्क रहना होगा. दुर्घटना की संभावना है. ऐसे में सतर्क रहें. आर्थिक स्थिति में भी नकारात्मक बदलाव देखने को मिलेगा. 

Mangal Rashi Parivartan: मंगल करने जा रहे हैं मिथुन राशि में प्रवेश, इन 3 राशि वालों को हो सकता है फायदा !

मकर राशि(*25*)

सूर्य ग्रहण का असर मकर राशि वालों की सेहत पर देखने को मिल सकता है. इस दौरान बीमार रह सकते हैं. सेहत के प्रति लापरवाही से कारण अधिक नुकसान उठाना पड़ सकता है. मन में किसी बात को लेकर भय बना रहेगा. पैतृक संपत्ति से नुकसान हो सकता है. दैनिक आर्थिक आय में गिरावट देखने को मिल सकती है. 

सूर्य ग्रहण के उपाय | Surya Grahan ke Upay(*25*)

सूर्य ग्रहण के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए कुछ उपाय कारगर साबित हो सकते हैं. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, सूर्यग्रहण के तुरंत बाद सूर्य से संबंधित दान जैसे- गेहूं, गुड़, मसूर की दाल, तांबे का दान करना शुभ रहेगा. इसके साथ-साथ आदित्यहृदय स्तोत्र का पाठ भी लाभकारी साबित होगा. इसके अलावा जो लोग मंत्र दीक्षा लिए हुए हैं वे गुरुमंत्र का अधिक से अधिक जाप करें तो लाभ हो सकता है. 

Indira Ekadashi 2022: इंदिरा एकादशी व्रत में पढ़ी जाती है ये कथा, जानें शुभ मुहूर्त और पारण समय

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)(*25*)

अनंत चतुर्दशी आज, मुंबई में गणपति विसर्जन की धूम(*25*)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.